मच्छर मारने वाले प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल हो सकता है हानिकारक

मच्छर मारने वाले प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल हो सकता है हानिकारक

लगभग सभी लोग अपने घर में मच्छर मारने वाली दवाओं का प्रयोग करते है। पर क्या आप जानते है की मच्छर मारने वाली दवाओं का ज़्यादा इस्तेमाल कई  बार तो आदमी को ही मार देता हैं। इनमे से निकलने वाली सुगंध मे धीमा जहर है जो धीरे – धीरे शरीर मे जाता रहता है और कई बार आपने भी महसूस किया होगा इसे सुघने से गले मे हल्की-हल्की जलन होने लगती है।

ये पहुंचाते है नुकसान:
मच्छर बनाने वाली दवाओं में तीन खतरनाक कैमिकल डी एथलीन , मेलफो क्वीन, और फोस्टीन का इस्तेमाल किया जाता है। कएल मे से जो धुआँ निकलता है वो भी बहुत अधिक खतरनाक है अभी एक दो वर्ष पहले की रिपोर्ट मे बताया गया एक कॉइलसे 100 सिगरेट जितना धुआँ निकलता है। सोचिए मच्छर भगाना आपको आपके परिवार को कितना महंगा पर सकता है।

आप कर सकते है ये उपाय:
मच्छर भगाने सबसे आसान उपाय है। आप मच्छरदानी का प्रयोग करे और इससे भी एक बढ़िया उपाय है।नीम एक तेल बाजार से ले आए। और उसको दीपक मे डाल कर बत्ती बना कर जला दे। जबतक दीपक जलेगा। एक भी मच्छर आस पास नहीं फड़केगा। एक लीटर नीम का तेल 2 से 3 महीने चल जाता है।
और सबसे बढ़िया एक और काम आप कर सकते है।

गाय के गोबर से बनी दूप या अगरबत्ती ले। उसको जलाए सब मच्छर भाग जाएँगे। आजकल काफी गौशाला वाले गोबर से बनी दूप अगरबत्ती आदि बना रहे। ये आसानी से आपको उपलब्ध हो जाएगी। इसे जलाने से भी मच्छर भाग जाते है।

LEAVE A COMMENT