आरपीएफ के एक सिपाही ने हिस्ट्रीशीटर और एमबीए के छात्र के साथ मिलकर की लूट

आरपीएफ के एक सिपाही ने हिस्ट्रीशीटर और एमबीए के छात्र के साथ मिलकर की लूट

जिनके कंधे पर लोगों की सुरक्षा हो अगर वही लुटेरे बन जाएं तो यह सुनकर आप को थोड़ा अचरज जरूर होगा। लेकिन यह बात सत्य है ऐसा एक मामला राजधानी के कृष्णानगर इलाके में सामने आया है। यहां सीआरपीएफ के एक सिपाही ने हिस्ट्रीशीटर और एक एमबीए के छात्र के साथ मिलकर एक व्यापारी को लूट लिया। हलाकि पुलिस ने छात्र को तो गिरफ्तार कर लिया लेकिन इस सिपाही और हिस्ट्रीशीटर की तलास की जा रही है।
लूट में सीआरपीएफ का सिपाही व हिस्ट्रीशीटर भी शामिल
बता दें कि महेश कुमार चौरसिया पुत्र गया प्रसाद चौरसिया निवासी ललिता माण्टेसरी स्कूल मोहल्ला प्रेम नगर थाना कृष्णानगर की बाराबिरवा में परचून की दुकान है।जहां से वह होलसेल में सामान बेचेते है।बीती आठ जनवरी की रात वह दुकान बन्द करके अपनी बाइक से घर जा रहे थे। रास्ते में घर से कुछ ही दूर पहले प्रेमनगर में दो बाइक पर सवार तीन बदमाशों ने तंमचे से जान से मारने की धमकी देकर बैग लूट दिया था।इस मामले में सिपाही प्रिंस ने बताया कि इस वारदात में तीन लोग शामिल थे।जिसमें से दो अभियुक्त अभी भी फरार है। जिसमें गोविन्द कुमार पुत्र सुलखान सिह निवासी 961/940 मानस नगर थाना कृष्णा सीआरपीएफ में सिपाही है जबकि सर्वेन्द्र पुत्र बालादीन निवासी ग्राम नंगला पंछी थाना कुर्रा जनपद मैनपुरी, मैनपूरी का ही हिस्ट्रीशीटर बदमाश है। जिनकी तलाश की जा रही है। पुलिस ने पकड़े गये अभियुक्त समीर यादव के कब्जे से व्यापारी का लूटा हुआ बैग, एक बाइक एंव एक सैन्ट्रोकार बरामद की गयी है।

लूट का विरोध करता तो मार डालते
पकड़े गये अभियुक्त समीर ने बताया कि उसने ही व्यापारी को ही लूटने का प्लान बनाया था। उसे उम्मीद थी कि यह परचून व्यापारी लाखों की नगदी लेकर घर जाता है। लेकिन उस दिन उसके पास ज्यादा नगदी नहीं थी। उसने बताया कि अगर व्यापारी लूट का विरोध करता तो उसे मार देते। उसने बताया कि वह अपने शौकों को पूरा करने के लिये अपने साथी सर्वेन्द्र यादव एवं गोविन्द के साथ मिलकर लूट की घटनाओं को अंजाम देते है रैकी करने का कार्य वह स्वयं करता है। जब उसका दोस्त गोविन्द जब भी छुट्टी पर लखनऊ अपने घर आता है। तो वह उससे संपर्क कर थाना सरोजनीनगर एवं आशियाना तथा जनपद के अन्य थाना क्षेत्रों के अन्तर्गत लूट की घटनाओं को अंजाम देते हैं।



LEAVE A COMMENT